सल्तनत-ए-उस्मानिया में घर के दरवाज़े

सल्तनत-ए-उस्मानिया में घर के दरवाज़े

क्या आप जानते हैं?
सल्तनत-ए-उस्मानिया में घर के दरवाज़े पर दो मुख़्तलिफ़ कुंडीया क्यों होती थी? एक बड़े दायरे वाली और एक छोटे दायरे वाली, इसकी वजह क्या थी?
अगर घर पर मर्द मेहमान आता तो वो बड़ी कुंडी से दरवाज़ा खटखटाता था जिसकी आवाज़ भारी होती थी तो घर का मर्द दरवाज़ा खोलता था।
और अगर कोई औरत मेहमान आती थी तो वो दरवाज़े की छोटी कुंडी खटखटाती थी, जिसकी आवाज़ तेज़ और बारीक होती थी तो घर का दरवाज़ा औरत खोलती थी।
ये तो हमारे असलाफ के घर के दरवाज़ो का मेयार था
सोचे फिर उनकी ज़िन्दगियों मे ईमान और आमाल का क्या मेयार रहा होगा?
यही वजह थी की कामयाबी हर मैदान में उनके क़दम चूमती थी।
#HUMANITY OF ISLAM (FACEBOOK PAGE) 
#Fareed

Leave a Reply

Close Menu
×
×

Basket